TRP Full Form in Hindi । TRP क्या होता है ।

हेल्लो दोस्तो आज का आर्टिकल TRP के उपर होने वाला हैं । अगर आपने TV देखा होगा तो टीआरपी के बारे में कभी न कभी जरूर सुना होगा तो इस आर्टिकल में हम TRP के बारे में शुरू से लेकर लास्ट तक जानने की कोशिश करेंगे । आपके मन में TRP को लेकर बहुत से सवाल होंगे जैसे कि TRP Full Form in Hindi क्या होता है , TRP Kya Hai , TRP कैसे मालूम करते हैं ।

ये सभी सवालों के जवाब आज इस आर्टिकल में आपको मिल जाएंगे तो कृपया इस आर्टिकल को शुरू से लेकर लास्ट तक पढ़ें जिससे आप TRP के बारे में विस्तार से जान सके और हो सके तो आप इसको अपने दोस्तो को भी शेयर करे जिससे वो भी कुछ जानकारी ले पाए ।

TRP Full Form in Hindi क्या होता है :-

TRP full form in Hindi होता है Television Rating Point एक ऐसा Tool Provide करता है । जिसके द्वारा ये पता लगाया जाता है की कौन TV Channel सबसे ज्यादा देखा जा रहा है या कौन सा Tv Show सबसे ज्यादा देखा जा रहा है । TRP से देखा जाता है की कौन सा TV Show कितना Popular है और लोग उसे दिन में कितने बार और कितने समय के लिए देखे रहे है । इसके साथ साथ वों उस शो को कितना ज्यादा पसंद कर रहे है ये सब बातें भी इससे जाना जाता हैं ।

अगर आपको यह जानना है कि इस समय कौन से TV शो को लोग सबसे ज्यादा देखना पसंद कर रहे है तो आप सबसे पहले TRP चेक करके यह आसानी से पता लगा सकते हैं । चलिए अब यह भी जान लेते है कि TRP को कैसे चेक किया जाता है ।

TRP कैसे चेक करे :-

TRP कैसे चेक करे यह सवाल तो हजारों लोगों के मन में रहता है । TRP चेक करने के लिए सबसे पहले आपको अपने किसी भी ब्राउज़र से BARC INDIA की वेबसाइट पर चलें जाना हैं । उसके बाद Channel के ऑप्शन पर क्लिक करके आप देख सकते है कि कौन सा चैनल इस हप्ते सबसे आगे चल रहा हैं ।

इसके आलावा आप Top advertiser और टॉप ब्रांड के बारे में भी जान सकते हैं। इन सभी के आलावा आपको यहां पर TRP से रिलेटेड बहुत सी चीजें मिल जाती हैं ।

TRP को चेक करने के लिए बड़े बड़े शहरों में कुछ हजार लोगो के घरों के TV में एक प्रकार का ट्रैकिंग device लगाया जाता है । जिसके लिए उनको कुछ पैसे भी दिए जाते हैं । इस डिवाइस की मदद से वो लोग ट्रैक करते हैं कि वे लोग जिनके घर में TRP डिवाइस लगा है वो कौन कौन से TV चैनल ज्यादा देख रहे हैं । इसी आधार पर सभी को Analysis करके सप्ताह या फिर महीने का TRP निकाला जाता है ।

ये भी पढ़ें :-

Meme क्या होता है और इसको कैसे बनाए ।

ऑनलाइन पढ़ाई करने के कुछ बेस्ट तरीके ।

PHD कैसे करे और कहा पर एडमिशन ले ।

TRP कैसे निकाला जाता है :-

INTAM इंडिया की एक मात्रा कंपनी है जो की TRP calculation का काम करती है । यह मुख्य दो तरीको का इस्तेमाल करती है

1 Frequency Monitoring Method

इसमें  TRP ट्रैकिंग डिवाइस को लोगो के घरों में जोड़ दिया जाता है और उससे यह ट्रैक किया जाता है कि वो लोग किस समय पर कौन से चैनल को देख रहे है उसके बाद उन सभी को Analysis करके एक TRP रिपोर्ट निकाला जाता हैं । जिस डिवाइस का इस्तेमाल किया जाता हैं उसको People’s Meter कहा जाता है । कम से कम 1 से 2 महीने तक इस डिवाइस को उन लोगो के घर में लगाया जाता है ।

2 Picture Matching Method

इसमें को डिवाइस लगाया जाता है । उससे निकले गए एक छोटे से समय अवधि तक की जानकारी ली जाती हैं । जैसे कि रात 9 बजे कौन से TV शो लोग ज्यादा देखना पसंद करते हैं । ऐसे ही हर छोटे छोटे समय अवधि का Analysis करके उस समय में कौन सा TV शो पापुलर हैं उसके बारे में TRP निकाला जाता हैं ।

TRP से कमाई कैसे होती है :-

आप लोग जब भी अपने TV में अपना मन पसंद के टीवी शो देखते होंगे तो हर 5-6 मिनट में Ads आने लगते है । यही Ads चैनल के कमाई का मुख्य जरिया होता है । TRP ज्यादा होने का मतलब है कि ज्यादा से ज्यादा लोग उन चैनल को देखना पसंद करते है । इसी बात के लिए चैनल वाले TRP ज्यादा होने के कारण Ads दिखाने के ज्यादा पैसे चार्ज करते है । उनकी कमाई पर TRP का बस इतना ही असर होता है ।

आप TV देखने के लिए को रिचार्ज करते है उनसे भी इन चैनल की कमाई होती है । लगभग 90% चैनल की कमाई advertising (विज्ञापन ) और Channel Subscription से ही होती है ।

TRP से चैनल पर क्या असर होता है :-

TRP ज्यादा या फिर कम होने से चैनल की ग्रोथ और इनकम पर बहुत असर होता है । जैसा कि हमने ऊपर बताया कि जब TRP ज्यादा होती है तो चैनल पर दिखाए जाने वाले विज्ञापनों के लिए चैनल को ज्यादा पैसे मिलते हैं और वहीं अगर चैनल की TRP एक दम कम हो जाए तो को विज्ञापन होते हैं उनके पैसे कम हो जाते हैं जिससे चैनल की कमाई भी कम हो जाती हैं । 

TRP कम होने का एक मतलब यह भी हैं की ज्यादा लोग अब उस चैनल या फिर शो को नहीं देखते हैं और TRP ज्यादा होने का मतलब है कि उस चैनल या फिर शो को ज्यादा लोग पसंद करते हैं ।

TV पर विज्ञापन के लिए कितने पैसे लगते हैं :-

TV पर विज्ञापन चलाने के लिए वैसे तो कई फिक्स रेट नहीं है । यह Rate समय के हिसाब से बदलता रहता है । दिन में अगर आपको विज्ञापन चलाना हैं तो समय के हिसाब से आपको पैसे देने होते हैं । यह पैसे प्रति 10 सेकेंड के लिए चार्ज किए जाते हैं । विज्ञापन की Price चैनल के उपर भी निर्भर करती है । अगर आप अपना विज्ञापन किसी पापुलर चैनल पर चलना चाहते हैं तो इसके लिए आपको ज्यादा पैसे देने पड़ते हैं ।

Conclusion :-

दोस्तो इस आर्टिकल में हमने TRP Full Form in Hindi , TRP kya hai , TRP को कैसे मालूम करते हैं । इन सभी बातों को विस्तार में बताया हैं । उम्मीद है हमने आपके TRP से रिलेटेड सारे सवालों के जवाब दे दिए होंगे । अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हैं तो आप हम कॉमेंट में बता सकते हैं और अपने सवालों को भी पूछ सकते हैं । इस आर्टिकल को अपने दोस्तो तक भी पहुंचाए और ज्यादा जानकारी के लिए Howcando.in पर जाएं ।

Leave a Comment