एनसीसी का फुल फॉर्म क्या है? NCC FULL FORM

NCC FULL FORM क्या आप जानते हैं कि एनसीसी का पूरा प्रकार क्या है? यदि नहीं तो उसके बाद मैं आपको बताना चाहता हूं कि जैसा कि एनसीसी या राष्ट्रीय कैडेट कोर के नाम से पता चलता है, यह कैडेटों की एक सेना है जो भविष्य के लिए शिक्षित होती है। एनसीसी शब्द का एक अतिरिक्त महत्व भी है जो भविष्य की शक्ति है। एनसीसी वास्तव में 1948 में राष्ट्रीय कैडेट कोर अधिनियम के तहत बनाया गया है, जिसका मूल उद्देश्य एक योग्य भविष्य की जनशक्ति विकसित करना था जो बाद में भारतीय सेना में सार्वजनिक सेवाओं के रूप में पंजीकृत हो सके।

एनसीसी कैडेटों को उन सभी बिंदुओं को दिखाया जाता है जो किसी भी प्रकार की सेना प्रशिक्षण अवधि के दौरान शिक्षित होते हैं।जबकि एनसीसी कैडेटों को सशस्त्र बलों में लगातार पहली वरीयता प्रदान की जाती है क्योंकि वे समय से पहले प्रशिक्षण के बारे में सब कुछ जानते हैं। इसमें सभी खोई हुई चेतना कैडेटों में वह व्यक्तित्व होता है

जिसकी आवश्यकता बलों में होती है। यदि आप ऐसे एनसीसी और एनसीसी पूर्ण प्रकार के बारे में अधिक जानना चाहते हैं तो आपको इस पोस्ट एनसीसी फुल काइंड इन हिंदी को पूरी तरह से पढ़ना होगा। आज हम अपने लेख में एनसीसी के बारे में बात करेंगे, सबसे पहले हम जानते हैं कि एनसीसी की परिभाषा हिंदी में क्या है? तो चलिए तुरंत शुरू करते हैं।

एनसीसी क्या है? NCC FULL FORM

NCC का मतलब हिंदी में “नेशनल सैनिक स्टूडेंट्स पार्टी” है और इसे अंग्रेजी में “नेशनल कैडेट कोर” भी कहा जाता है। यह पूरा टाइप था लेकिन इसे एनसीसी सिंपल पुट काइंड कहते हैं। अगर हम NCC की स्थापना की बात करें तो उसके बाद 16 अप्रैल 1948 को पंडित हरदया नाथ कुंजरू के नेतृत्व में भारत की आजादी के कुछ समय बाद NCC का विकास हुआ और इसका पर्दाफाश 15 जुलाई 1948 को हुआ।

इसकी शुरुआत सबसे पहले 1666 AD में जर्मनी में हुई थी। वह ऋण जिसके लिए यूके की संघीय सरकार को प्रदान किया जाता है। 1948 में जब भारत में NCC का विकास हुआ था तब इसका मुख्यालय दिल्ली था और आज भी इसका मुख्यालय दिल्ली में है।

एनसीसी का फुल फॉर्म हिंदी में – Full form of NCC in Hindi

ncc full form
ncc full form

NCC का फुल फॉर्म नेशनल कैडेट कॉर्प्स Indian military cadet corps (NCC) है। वहीं यह भारतीय सेना की कैडेट कोर है। एनसीसी अपने लिए हाई स्कूल, स्कूलों से कैडेटों की भर्ती करता है, वह भी पूरे देश से। इसमें कैडेटों को छोटे हथियारों के साथ-साथ परेड करने के लिए बुनियादी सैन्य प्रशिक्षण दिया जाता है।

NCC संक्षिप्त रूप के अन्य फुल फॉर्म

 NCC के दुसरे Full Form कौन कौन से होते हैं, जिनकी जानकारी आप सभी को पहले से ही होनी चाहिए।

NCC National Capital Commission
NCC National Community Church
NCC NewCastle City Council
NCC Nikko Cordial Corporation
NCC Nondescripts Cricket Club
NCC Norwalk Community College
NCC Nunawading Christian College
NCC FULL FORM

एनसीसी की उत्पत्ति

एनसीसी (NCC) की उत्पत्ति आर्मी की कमी को पूरा करने के मकसद इंडियन डिफेंस अधिनियम के तहत किया गया था ।

एनसीसी का लक्ष्य :-

एनसीसी का प्रमुख उद्देश्य सेना को सहायता प्रदान करना है, जिसमें एनसीसी कुछ हद तक सफल भी हुई है। एनसीसी की टैगलाइन के लिए बातचीत 11 अगस्त 1978 से शुरू हुई। एनसीसी को “ऑब्लिगेशन, एकता और टेक्नीक” जैसे विभिन्न टैगलाइनों में से चुनना पड़ा। बाद में काफी चर्चा के बाद एकता और तकनीक को भी चुना गया। एनसीसी का उद्देश्य युवाओं में आत्म-नियंत्रण, व्यक्तित्व, लीग जैसे उच्च गुणों का विकास करना था। एनसीसी के साथ सशस्त्र बलों के साथ साइन अप करना भी एनसीसी का एक फायदा है।

NCC Day कब मनाया जाता है?

National Cadets Corps (NCC) day को प्रतिवर्ष November महीने के चोथे रविवार को मनाया जाता है।

NCC का मुख्यालय कहाँ पर स्तिथ है?

NCC का मुख्यालय दिल्ली में स्तिथ है. ये तो शायद आप जानते ही होंगे की भारत के सभी सेना फिर चाहे वो स्थल, वायु और जल सेना का भी मुख्यलय दिल्ली में स्तिथ है।

एनसीसी का झंडा (Flag of NCC in Hindi)

NCC FULL FORM
NCC FULL FORM

एनसीसी के झंडे को साल 1954 में डिजाइन किया गया था। यह एक तिरंगा झंडा था जिसमें मौजूद 3 रंग लाल, नीले और साथ ही आकाश हैं। इस झंडे के बीच में बड़े अक्षरों में NCC लिखा होता है। जिसके किनारे पर पत्तों का घेरा बना दिया गया है। झंडे में तिरंगे के नीचे एनसीसी की टैगलाइन मौजूद होती है जिसमें इसकी रचना एकता और तकनीक से होती है।

ये भी पढ़ें :-

NCC का इतिहास

एनसीसी को आगे बढ़ाने में पंडित जवाहरलाल नेहरू का बहुत बड़ा योगदान है। उन्होंने एनसीसी के पाठ्यक्रम में बदलाव किया और इसे बेहद आसान बना दिया। एनसीसी पाठ्यक्रम में आत्मरक्षा और युद्ध स्तर की तकनीक शामिल थी। एनसीसी के तहत जवानों को कई तरह से हथियार चलाने की ट्रेनिंग भी दी जाती है. वर्ष 1950 में भी एनसीसी में वायु का योगदान था। उसके बाद एनसीसी का प्रभाव काफी अधिक हो गया।

एनसीसी की तयारी कैसे करे

एनसीसी की तैयारी भारत में स्कूल के साथ-साथ कॉलेज के छात्रों के लिए भी की जाती है। एनसीसी को देश की युवा पीढ़ी को बहुत अनुशासित और देशभक्त निवासियों में शामिल करने में भाग लिया जाता है। मिलिट्री, नेवी के साथ-साथ फ्लाइंग फोर्स जो एक त्रि-सेवा संगठन है, कोई भी व्यक्ति अपनी मर्जी से इस संगठन (ग्रुप) में शामिल हो सकता है। इस टीम में शामिल होने वाले व्यक्ति को मिलिट्री आर्मी से जुड़ी हर तरह की ट्रेनिंग दी जाती है। यदि आप सेना के साथ साइन अप करना चाहते हैं, तो आपको सिखाया जाता है कि वहां कैसे रहना है और विरोधी से कैसे निपटना है। एनसीसी में आपको जमीनी स्तर की ट्रेनिंग दी जाती है।

आपने देखा होगा कि कई बार गांव में शिविर का आयोजन किया जाता है। कस्बे में एनसीसी कैंप लगाने का मुख्य उद्देश्य बच्चों को कैंप में बुलाकर ट्रेनिंग देना है. एनसीसी को त्रिकोणीय समाधान संगठन माना जाता है। जिसमें सेना, वायु सेना और नौसेना में भी 3 सेवाएं शामिल हैं। एनसीसी में युवाओं को प्रशिक्षण देते समय छोटे हथियारों को संचालित करने का प्रशिक्षण दिया जाता है। एनसीसी अपने अनुशासन और देशभक्ति के लिए भी जानी जाती है।

एनसीसी में, आपको राष्ट्र का आनंद लेने के लिए और तकनीक में कैसे रहना है, इन सभी चीजों को शिक्षित किया जाता है। एनसीसी वास्तव में एक बहुत बड़ा और महान उपकरण है जो हमारे देश को बच्चों का भविष्य बनाने के लिए निरंतर कार्य कर रहा है और भारत की युवा पीढ़ी की देशभक्ति की भावना को भी जगा रहा है। इसका प्राथमिक उद्देश्य तकनीक और एकता है।

NCC Join कैसे करे?

एनसीसी, इसकी उत्पत्ति, इसकी सुविधा और बहुत कुछ के बारे में हमने यही पहचाना है, अब हमें यह जानने की जरूरत है कि एनसीसी में कैसे शामिल हों? एनसीसी में जो सदस्य “उम्मीदवार” होते हैं, वे किसी कॉलेज या कॉलेज के छात्र होते हैं, जिसके माध्यम से उस संस्थान या विश्वविद्यालय के शिक्षक “शिक्षक” से संपर्क किया जा सकता है। जिससे वे प्रशिक्षक एनसीसी में शामिल होने में हमारी सहायता करते हैं।

जिसमें एक छोटा सा फिजिकल टेस्ट होता है जिसके लिए एक तरह का लोड करना होता है। इसके बाद एनसीसी की ट्रेनिंग क्लास शुरू होती है। अगर आपके कॉलेज या यूनिवर्सिटी में एनसीसी का कोर्स है तो आपके आस-पास के किसी भी स्कूल या यूनिवर्सिटी में एनसीसी लिया जाता है। एनसीसी को 2 भागों में बांटा गया है, पहला जूनियर विभाग दूसरा बुजुर्ग डिवीजन, इनमें से किसी एक विभाग को उम्र “उम्र” और वर्ग के अनुसार भी शामिल होना है।

NCC में Certificates in Hindi

एनसीसी में सर्टिफिकेशन भी होते हैं, जिसका फायदा यह है कि एनसीसी में शामिल होने पर बहुत सारी “सामाजिक गतिविधियाँ” सामाजिक कार्य करने की आवश्यकता होती है और साथ ही इन गतिविधियों को करते समय, प्रबंधन क्षमता, संचार कौशल सदस्य के अंदर विकसित होते हैं। जैसा कि हम समझते हैं कि एनसीसी उम्मीदवारों को उनके प्रशिक्षण के बाद विभिन्न प्रकार के प्रमाण पत्र प्रदान किए जाते हैं। हम इन प्रमाणपत्रों का उपयोग कई संघीय सरकारी कार्यों में कर सकते हैं। इन प्रमाणपत्रों के लाभों की चर्चा नीचे दी गई है:-

एनसीसी कैडेटों को राज्य और मुख्य सरकारी परामर्श में प्राथमिकता प्रदान की जाती है। जिन कैडेटों के पास एनसीसी प्रमाणपत्र है, उनके लिए भारतीय सैन्य कॉलेज में एक सीट निर्धारित है। एनसीसी कैडेटों के लिए, प्रत्येक (नौसेना) प्रशिक्षण पाठ्यक्रम में 6 नौकरियां हैं और (वायु सेना) वायु सेना में 10% अवकाश है। जिन कैडेटों ने एनसीसी बी.सी. प्रमाणपत्रों को सीडीएस लिखित मूल्यांकन मूल रूप से सेवा भुगतान के लिए उपस्थित होने की आवश्यकता नहीं है। प्रतिवर्ष 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के अवसर पर और 15 अगस्त को आत्मनिर्भरता दिवस के अवसर पर दिल्ली के लाल किले में आयोजित समारोह में एनसीसी कैडेट भाग लेते हैं, अपने समारोह के साथ लोगों को आकर्षित करते हैं।

NCC किस मंत्रालय के अधीन होता है?

राष्ट्रीय स्तर पर एनसीसी रक्षा मंत्रालय के अधीन है और सभी राज्यों में एनसीसी शिक्षा मंत्रालय के अधीन है।

NCC में दाखिला के लिए minimum height कितनी होनी चाहिए?

NCC में दाखिला के लिए पुरुषों की minimum height करीब 157.5 cm होनी चाहिए. वहीँ महिलाओं की minimum height करीब 152 cm होनी चाहिए।

NCC में दाखिला के लिए age limit क्या होती है?

प्रारंभिक भाग में, आपको ‘ए’ प्रमाणीकरण प्राप्त करने के लिए दो साल के लिए एनसीसी में खुद को पंजीकृत करने की आवश्यकता है और इस मामले में आपकी आयु 13-17 वर्ष के बीच होनी चाहिए। जबकि दूसरे भाग में आप ‘बी’ और ‘सी’ सर्टिफिकेट के लिए खुद को सूचीबद्ध कर सकते हैं, हालांकि इसके लिए आपको 3 साल के लिए एनसीसी का हिस्सा बनना होगा और इसमें आपकी उम्र 19-24 साल के बीच होनी चाहिए।

CONCLUSION

दोस्तों उम्मीद हैं कि आपको हमारे इस प्रयास से कुछ जानने को मिल होगा और आप NCC Full Form के बारे में विस्तार से जान चुके होंगे ऐसे ही और बहुत से फूल फॉर्म आपको हमारे ब्लॉग पे मिल जाएंगे जिससे आप अपनी नालेज को और ज्यादा बढ़ा सकते हैं लास्ट तक पढ़ने के लिए धन्यवाद ।

1 thought on “एनसीसी का फुल फॉर्म क्या है? NCC FULL FORM”

Leave a Comment